स्मृति शेष:2017 में नर्मदा सेवा यात्रा में शामिल होने भोपाल आए थे पंडित जसराज, नर्मदा किनारे की हरियाली देखकर हुए थे खुश, कहा था- ये दैवीय कार्य

 

भारतीय शास्त्रीय संगीत के प्रसिद्ध गायक पंडित जसराज नहीं रहे। वह 90 साल के थे। अमेरिका के न्यूजर्सी में उन्होंने अंतिम सांस ली।

  • पंडित जसराज अपनी प्रस्तुति देने भोपाल कई बार आए थे, उन्होंने कहा था कि मध्यप्रदेश से मेरा आत्मीय रिश्ता है
  • उन्होंने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह के साथ एक दिन नर्मदा सेवा यात्रा में भी शामिल हुए थे

भारतीय शास्त्रीय संगीत के प्रसिद्ध गायक पंडित जसराज नहीं रहे। वह 90 साल के थे। अमेरिका के न्यूजर्सी में उन्होंने अंतिम सांस ली। पंडित जसराज के निधन से संगीत जगत शोक में डूब गया है। पंडित जसराज अपनी प्रस्तुति देने भोपाल कई बार आए थे। उन्होंने कहा था कि मध्यप्रदेश से मेरा आत्मीय रिश्ता है। भारत भवन से मैं लंबे समय तक जुड़ा रहा हूं। अंतिम बार वे 2017 में अपनी बेटी के साथ भोपाल आए थे। और उन्होंने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह के साथ एक दिन नर्मदा सेवा यात्रा में भी शामिल हुए थे। नर्मदा किनारे की हरियाली देख वे बेहद खुश हुए थे। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह पंडित जसराज को ट्वीट कर श्रद्धांजलि अर्पित की है। मुख्यमंत्री ने कहा है कि संगीत मार्तण्ड, शास्त्रीय गायक, पंडित जसराज जी के गाये कृष्ण भजन और शिवमहिम्न स्तोत्र को सुनिए, तो लगता है कि माता सरस्वती ने उन्हें अपने आशीर्वाद से धन्य किया है। पंडित जी का मध्यप्रदेश से बहुत गहरा रिश्ता था। वे मध्यप्रदेश से विशेष प्रेम करते थे।

यात्रा से लौटने के बाद भोपाल में उन्होंने मीडिया से चर्चा करते हुए कहा मुझे नर्मदा सेवा यात्रा में शामिल होकर बहुत अच्छा लगा। मुख्यमंत्री ने मुझे इतने सफल कार्य में शिरकत करने के लिए बुलाया बहुत खुश हूं। यह एक बहुत अच्छा प्रयास है इस यात्रा को निरंतर आगे बढ़ते रहना चाहिए। इस दैवीय कार्य के लिए मेरा चयन होना मेरे जीवन का सौभाग्य है। मैं इस बात से काफी प्रसन्न हूं कि मुझे मां नर्मदा की सेवा करने के साथ इसके किनारे की संस्कृति को जानने का मौका भी मिलेगा। इस यात्रा को लेकर मेरी बेटी और शिष्या भी काफी प्रभावित थीं। इसलिए वे भी मेरे साथ आईं। ऐसी यात्रा देशसभर की नदियों के लिए चलाई जाना चाहिए।

अलौकिक अनुभूति हुई
पं जसराज ने कहा था कि मुझे अलौकिक अनुभूति हुई। यह सराहनीय पहल है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने अनूठा प्रयास किया है। आज की राजनीति में ऐसा प्रयास करने वाले लोग कम ही हैं। मेरा मानना है कि नर्मदा को लेकर यहां के कवि और गायकों को रचना और गीत गढ़ने चाहिए। उस पर काम करें, ताकि मां नर्मदा की महिमा दुनियाभर में पहुंचे। उनके साथ यात्रा पर आईं उनकी बेटी दुर्गा जसराज ने कहा कि हम नर्मदा यात्रा पर गए तो वहां पौधारोपण और हरियाली देखकर बहुत खुशी हुई। मध्यप्रदेश में नर्मदा के लिए किया जाने वाला यह प्रयास सभी के लिए एक मिसाल और उदाहरण बनेगा।

हर नदी का आध्यात्मिक और वैज्ञानिक पक्ष

पं जसराज ने कहा था कि देश में हर नदी का आध्यात्मिक और वैज्ञानिक पक्ष है। गंगा की सफाई में काफी समय लगा था। 1985 में राजीव गांधी ने 400 करोड़ रुपए दिए थे। बाद में कई करोड़ आते गए। उसका कोई हिसाब ही नहीं हैं। गंगा में गंदगी बढ़ती ही गई। गंगा की बदहाली नर्मदा के संरक्षण की दिशा में मध्यप्रदेश के लिए बड़ा सबक हो सकती है, क्योंकि नर्मदा की स्थिति इतनी खराब नहीं है। जल्दी सफाई के प्रयासों का फायदा यहां के लोगों को मिलेगा। नर्मदा अपने वास्तविक स्वरूप में लौट आएगी।

संगीत पर क्या बोले थे पंडित जसराज

पं. जसराज ने कहा- भारतीय शास्त्रीय संगीत का मूलमंत्र रियाज है। बिना रियाज के आप बेहतर शास्त्रीय गायक नहीं बन सकते। इसी का असर है कि लता, आशा जैसे दिग्गज कलाकार उम्र के इस पड़ाव पर भी शोहरत के शिखर पर विराजमान हैं। लेकिन समय के साथ संगीत के क्षेत्र में काफी बदलाव देखने को मिला है। युवा संगीत में कॅरियर तो बनाना चाहता है, लेकिन उसका रास्ता शॉर्टकट होता है। युवा कलाकार रियाज करने से सबसे अधिक कतराता है। वह उतना ही रियाज करना चाहता है जितने में उसका काम चल जाए। इसी कारण आज इंडस्ट्री में गायक कब आते हैं और चले जाते हैं पता ही नहीं चलता है।
युवा पीढ़ी काफी तेज

जमाने के साथ बदलाव जरूरी है। अगर शास्त्रीय संगीत में बदलाव हो रहे हैं तो इसे सकारात्मक रूप से लेने की जरूरत है। नई पीढ़ी बढ़िया कर रही है। राशिद खां, संजीव अभ्यंकर, रत्न मोहन शर्मा, अजय चक्रवर्ती जैसे कलाकार इसे आगे बढ़ा रहे हैं। अब कार्यक्रम घरुआ नहीं, बल्कि बडे स्तर पर हो रहे हैं।

 

No comments:

Post a Comment

Popular Posts

CRPF PET 2020:CRPF ने जारी की फिजिकल एग्‍जाम की तारीख, 789 पदों पर भर्ती के लिए 14 दिसंबर को होगी परीक्षा

  सेंट्रल रिजर्व पुलिस फोर्स (CRPF) ने सब इंस्‍पेक्‍टर, इंस्‍पेक्‍टर, हेड कांस्‍टेबल समेत अन्‍य पदों पर भर्ती के लिए फिजिकल एग्‍जाम की डेट...