यूरोपा लीग:इंटर मिलान शख्तर दोनेस्तक को हराकर 22 साल बाद फाइनल में; 21 अगस्त को छठवीं बार फाइनल में पहुंचने वाली सेविला से मुकाबला

 

इंटर मिलान के लाटरो मार्टिनेज (दाएं) और रोमेलु लुकाकू सोमवार को जीत के बाद। इंटर मिलान की यह जोड़ी इस क्लब के लिए एक सीजन में 20 से ज्यादा गोल करने वाली दूसरी जोड़ी बन गई है। इसके पहले 2004-2005 में एड्रिआनो और ओब्फेमी ने यह रिकॉर्ड बनाया था।

  • लाटरो मार्टिनेज और रोमेलु लुकाकु ने जीत में अहम भूमिका निभाई, दोनों ने 2-2 गोल किए
  • इंटर मिलान 1998 के बाद फाइनल में पहुंची, उसने 2010 में चैम्पियंस लीग का खिताब जीता था

इटली का फुटबॉल क्लब इंटर मिलान 22 साल बाद यूरोपा लीग के फाइनल में पहुंचा। उसने दूसरे सेमीफाइनल में यूक्रेन की टीम शख्तर दोनेत्सक को 5-0 से हराया। खिताब के लिए उसका मुकाबला 21 अगस्त को फाइनल में स्पेन की टीम सेविला से होगा। इंटर मिलान ने 1998 में खेले गए फाइनल में लाजियो को 2-1 से हराकर खिताब अपने नाम किया था। 2010 के बाद से इंटर मिलान ने कोई खिताब नहीं जीता है। 2010 में चैम्पियंस लीग ट्रॉफी अपने नाम किया था।

19 वें मिनट में पहला गोल
इंटर मिलान की ओर से मैच के 19 वें मिनट में लुटेरो मार्टिनेज ने टीम का खाता खोलते हुए पहला गोल किया। टीम हाफ टाइम तक 1-0 से आगे थी। दूसरे हाफ में 64 वें मिनट में डेनिलो डी अम्ब्रोसिया ने गोल किया। 74 वें मिनट में मार्टिनेज ने गोल कर टीम को 3-0 से आगे कर दिया। 78 वें और 83 वें मिनट में रोमेलु लुकाकु ने गोल कर इंटर मिलान को 5-0 से जीत दिला दी।

फाइनल का समीकरण
सेविला रिकॉर्ड छठी बार यूरोपा लीग के फाइनल में पहुंचा है। उसने रविवार को हुए पहले सेमी फाइनल में मैनचेस्टर यूनाइटेड को 2-1 से हराया। सेविला इससे पहले 5 बार यूरोपा लीग का खिताब जीत चुका है। टीम 21 अगस्त को फाइनल में इंटरमिलान से छठी बार खिताब हासिल करने के लिए भिड़ेगी। इंटर मिलान ने इससे पहले 1998 में खिताब हासिल किया था। वह यूरोपा लीग में अपने दूसरा खिताब जीतने के लिए फाइनल में सेविला के खिलाफ उतरेगी।

सेविला ने पिछला खिताब 2016 में जीता था
पिछली बार सेविला ने 2016 में यूरोपा लीग का खिताब जीता था। सेविला चैम्पियनशिप के इतिहास में अब तक रिकॉर्ड 41 मैच जीत चुका है। सेविला इससे पहले लगातार तीन सीजन में ( 2013/14, 2014/15 और 2015/16) यूईएफए यूरोपा लीग के सेमीफाइनल में पहुंचा था और हर बार उसने खिताब जीता।

No comments:

Post a Comment

Popular Posts

इतिहास में आज:जब दुनिया के किसी मुस्लिम देश में पहली बार चुनी गई महिला प्रधानमंत्री, सिर्फ 35 साल थी उनकी उम्र

  हमारे पड़ोसी देश पाकिस्तान में आज ही के दिन कोई महिला प्रधानमंत्री बनी थी। ये न सिर्फ पाकिस्तान की पहली महिला प्रधानमंत्री थीं, बल्कि कि...