परीक्षा की घड़ी:आज से 22 दिन चलेंगी यूजी की परीक्षाएं, दो मीटर की दूरी पर हर रोज 37 हजार परीक्षार्थी बैठेंगे, सेनेटाइजेशन के बाद ही मिलेगी परीक्षा केंद्र में एंट्री

 कॉलेजों में रविवार को भी परीक्षा के लिए तैयारियां की गई, इस दौरान परीक्षा सेंटरों को सेनेटाइज किया गया।

  • छात्र संगठनों के तमाम विरोध के बाद भी एचपीयू ने नहीं बदला फैसला, प्रदेश में 134 सेंटर बनाए

हिमाचल प्रदेश यूनिवर्सिटी आज से 1 महीने तक अंडर ग्रेजुएट के छठे सेमेस्टर की परीक्षाएं करवाएगा। कोरोना संकट के बीच सभी अटकलों को विराम लगाते हुए यूनिवर्सिटी ने इन कक्षाओं का संचालन करने का अब अंतिम फैसला लिया है।

एचपीयू की ओर से परीक्षाएं 22 दिन तक करवाई जाएंगी। 17 अगस्त काे परीक्षाएं शुरू हाेगी। वहीं 8 सितंबर काे परीक्षाएं समाप्त हाेगी। फिलहाल अभी सिर्फ छठे सेमेस्टर की ही परीक्षाएं करवाई जा रही है। इसके अलावा रि-अपीयर और ओल्ड सिलेबस की भी परीक्षाएं करवाई जाएंगी। परीक्षार्थियाें काे करीब आठ पेपर देने हाेंगे। सुबह 9 बजे से 12 बजे तक और शाम के सेशन में दाेपहर 2 बजे से 5 बजे तक परीक्षाएं हाेगी। छात्रों को एग्जाम शुरू होने से एक घंटा पहले परीक्षा हॉल में पहुंचना होगा। हर स्टूडेंट की थर्मल स्क्रीनिंग होगी और इसके बाद ही उन्हें परीक्षा हॉल में एंट्री दी जाएगी।

इस तरह का रहेगा छात्रों के लिए सिटिंग प्लान

हिमाचल प्रदेश यूनिवर्सिटी को यूजीसी की ओर से जारी किए गए सिटिंग प्लान के अनुसार ही परीक्षाएं करवाई जाएंगी। परीक्षा हाॅल में बैठने वाले परीक्षार्थियाें के बीच दाे मीटर की दूरी रखना जरूरी है। इसके अलावा जिन छात्राें काे सर्दी जुखाम हाेगा, उन्हें दोबारा से परीक्षा देने का माैका दिया जाएगा। कॉलेजों को कोरोना को लेकर स्वास्थ्य मंत्रालय के मानकों का पालन करना होगा, जिसमें दो गज की दूरी, मास्क एवं आरोग्य सेतु एप जैसे प्रावधान शामिल हैं। परीक्षक को मास्क और ग्लव्स पहनने होंगे।

No comments:

Post a Comment

Popular Posts

किसान आंदोलन की 10 फोटो:कृषि कानूनों के खिलाफ पंजाब-हरियाणा में तनाव, पुलिस ने दिल्ली जाने से रोका तो किसान सड़कों पर ही बैठ गए

  केंद्र के कृषि कानूनों के खिलाफ पंजाब और हरियाणा के हजारों किसान दिल्ली के लिए रवाना हुए हैं। फोटो करनाल के समाना बाहू इलाके की है। केंद...