जेईई और नीट:परीक्षा स्थगित करने की मांग के लिए आप की छात्र विंग ने किया प्रदर्शन; पुलिसकर्मियों से झड़प के बाद हिरासत में लिया गया

 

              लखनऊ में प्रदर्शन करते हुए आम आदमी पार्टी के छात्र विंग के कार्यकर्ता।

  • आम आदमी पार्टी की छात्र विंग ने परीक्षा रद्द कराने के लिए केंद्रीय मानव संसाधन मंत्री रमेश पोखरियाल के नाम ज्ञापन सौंपा
  • सुप्रीम कोर्ट परीक्षाएं रद्द करने से इंकार कर चुका है, कोर्ट ने कहा था- छात्रों का कीमती साल बर्बाद नही किया जा सकता

कोरोना महामारी के बीच जेईई और नीट, यूजीसी की परीक्षाओं को स्थगित करने की मांग लगातार छात्रों द्वारा की जा रही है। सोमवार को आम आदमी पार्टी की छात्र इकाई ने परिवर्तन चौक चौराहे पर प्रदर्शन किया। पुलिस ने प्रदर्शनकारियों को हिरासत में लिया है। इस दौरान पुलिसकर्मियों से प्रदर्शनकारियों की झड़प भी हुई। बता दें कि पिछले हफ्ते सुप्रीम कोर्ट ने परीक्षा रद्द किए जाने संबंधी याचिका की सुनवाई करते हुए कहा था कि जीवन चलते रहना है। जीवन को आगे बढ़ना है। छात्रों का कीमती साल बर्बाद नही किया जा सकता।

केंद्रीय मंत्री के नाम सौंपा ज्ञापन

छात्र युवा संघर्ष समिति के प्रदेश अध्यक्ष बंसराज दुबे की अगुवाई में लोग सोमवार को परिवर्तन चौक चौराहे पर जुटे। यहां परीक्षा स्थगित किए जाने को लेकर केंद्रीय मानव संसाधन मंत्री रमेश पोखरियाल के नाम ज्ञापन सौंपा। छात्रों ने कहा कि कोरोना महामारी की वजह से छात्रों और उनके अभिभावकों में डर का माहौल है। इस दौरान परीक्षा कराना उनके जीवन के साथ खिलवाड़ है। मौजूदा हालात को देखते हुए परीक्षाएं स्थगित कर दिए जाने की मांग की गई। वहीं प्रदर्शन के दौरान परिवर्तन चौराहे पर भारी पुलिस बल मौजूद रहा।

सुप्रीम कोर्ट ने कहा था- साल बर्बाद नहीं किया जा सकता

परीक्षाओं को लेकर छात्र दो धड़ों में बंटे हुए हैं। कुछ लोग परीक्षा रद्द करने की मांग कर रहे हैं तो कुछ का कहना है कि साल कीमती है। सावधानी बरतते हुए परीक्षाएं कराई जाएं। इस बाबत पिछले हफ्ते सुप्रीम कोर्ट के न्यायमूर्ति अरूण मिश्रा, न्यायमूर्ति बी आर गवई और न्यायमूर्ति कृष्ण मुरारी की तीन सदस्यीय पीठ ने सुनवाई करते हुए कहा था कि छात्रों के शैक्षणिक जीवन को लंबे समय तक जोखिम में नहीं डाला जा सकता। पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार परीक्षाओं के आयोजन का मार्ग प्रशस्त करते हुए पीठ ने कहा, जीवन चलते रहना है। जीवन को आगे बढ़ना है। छात्रों का कीमती साल बर्बाद नही किया जा सकता। सॉलीसिटर जनरल तुषार मेहता ने पीठ से कहा कि इन परीक्षाओं के आयोजन के दौरान पूरी सावधानी और सुरक्षा उपाय किए जाएंगे।

No comments:

Post a Comment

Popular Posts

MP NHM CHO 2020:कम्युनिटी हेल्थ ऑफिसर के पदों पर भर्ती के लिए होने वाली परीक्षा का एडमिट कार्ड जारी, 6 दिसंबर को 3800 पदों के लिए होगा एग्जाम

  मध्य प्रदेश नेशनल हेल्थ मिशन में कम्युनिटी हेल्थ ऑफिसर के पदों पर भर्ती के लिए होने वाली परीक्षा के एडमिट कार्ड जारी कर दिए गए हैं। मध्य...