भाजपा विधायक दल की बैठक जारी, वसुंधरा राजे भी शामिल; पायलट मामले में गहलोत फिर बोले- भूलो और माफ करो के साथ आगे बढ़ना होगा

 

कांग्रेस सरकार में बगावत से उठे संकट के बाद भाजपा ने अपनी स्ट्रैटजी बनाने के लिए तीसरी बार विधायक दल की बैठक बुलाई है, लेकिन वसुंधरा पहली बार शामिल हुई हैं।

  • कांग्रेस विधायक दल की बैठक भी होगी, गहलोत-पायलट का आमना-सामना हो सकता है
  • बगावत के 32वें दिन पार्टी से सुलह होने पर पायलट गुट 11 अगस्त को जयपुर लौट आया था

जयपुर में भाजपा विधायक दल की बैठक जारी है। इसमें पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे भी मौजूद हैं। कांग्रेस के राजनीतिक संकट के बाद वसुंधरा पहली बार जयपुर पहुंचीं हैं। इससे पहले 2 बार भाजपा विधायक दल की बैठक बुलाई गई थी, लेकिन वसुंधरा शामिल नहीं हुई थीं। आज की बैठक में 14 अगस्त से शुरू हो रहे विधानसभा सत्र को लेकर रणनीति बनाई जाएगी।

उधर, मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने लगातार दूसरे दिन कहा कि पार्टी में पिछले महीने जो भी गलतफहमी हुई, उसे हमें देश, राज्य और लोकतंत्र के हित में भूलने और माफ करने की जरूरत है। इसी सोच के साथ हमें आगे बढ़ना होगा।

कांग्रेस विधायक दल की बैठक भी होगी
कांग्रेस विधायक दल की बैठक में आज अशोक गहलोत और सचिन पायलट का आमना-सामना हो सकता है। पहले खबर आई थी कि मीटिंग सुबह 11 बजे है, लेकिन अब तक शुरू नहीं हो पाई है। मीटिंग में दोनों खेमों के विधायक मौजूद रहेंगे। बैठक के बाद दोनों गुटों में मेल-मिलाप का दौर चलेगा। यह देखना दिलचस्प होगा कि गहलोत और पायलट की मुलाकात किस तरह से होती है।

अपडेट्स

  • कांग्रेस के महासचिव केसी वेणुगोपाल आज सुबह जयपुर के होटल फेयरमोंट पहुंचे। वे विधायक दल की बैठक में मौजूद रहेंगे। प्रदेश प्रभारी अविनाश पांडे, पार्टी नेता रणदीप सुरजेवाला और अजय माकन भी शामिल होंगे।
  • मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने देर रात ट्वीट कर उम्मीद जताई कि विधानसभा सत्र के दौरान कोरोना संकट पर खुलकर चर्चा होने की उम्मीद है।

14 अगस्त से विधानसभा सत्र
गहलोत खेमे के विधायक बुधवार को जैसलमेर से जयपुर लौट आए। उन्हें फिर से उसी होटल फेयरमोंट में ठहराया गया है, जहां से वे 31 जुलाई को जैसलमेर गए थे। गहलोत ने इस पूरे सियासी घटनाक्रम पर कहा- ‘फॉरगेट एंड फॉरगिव, भूलो, माफ करो और आगे बढ़ो। यही प्रदेशवासियों और लोकतंत्र के हित में है।' 14 अगस्त से विधानसभा सत्र शुरू होगा।

पायलट गुट के 18 विधायक बाड़ेबंदी में नहीं रहेंगे
गहलोत गुट के विधायकों की तो अभी तक होटल में बाड़ेबंदी जारी है, लेकिन पायलट गुट के विधायक अपने-अपने घरों पर ही हैं। दो दिन पहले से ही पायलट गुट के सभी विधायक बाड़ेबंदी से निकल चुके हैं। एक महीने बाड़ेबंदी में रहने के बाद मंगलवार शाम वे जयपुर लौट आए थे। बुधवार शाम 7 बजे पायलट के सरकारी आवास पर विधायकों की मीटिंग भी हुई, जिसमें आगे की स्ट्रैटजी तय की गई। हालांकि, इसे अनौपचारिक मुलाकात बताया गया।

 

No comments:

Post a Comment

Popular Posts

फीचर आर्टिकल:अब घर बैठे दवाई मंगवाना और डॉक्टर से परामर्श लेना हुआ बेहद आसन

  आज का दौर डिजिटाइजेशन का है, जिसमें अधिकतर काम ऑनलाइन, घर बैठे चंद मिनटों में आसानी से हो जाते हैं। चाहे भी फिर कपड़े खरीदना हो, किसी को...