बैन से बचने की कोशिश:टिकटॉक का अमेरिकी कारोबार बचाने के लिए ट्रम्प प्रशासन से बातचीत कर रही है बायडांस, 15 सितंबर से लगना है प्रतिबंध

 

  राष्ट्रीय सुरक्षा को लेकर अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प टिकटॉक पर बैन का ऑर्डर जारी कर चुके हैं।

  • केंद्रीय इंटेलीजेंस एजेंसी से मिले टिकटॉक के अधिकारी-निवेशक
  • माइक्रोसॉफ्ट और ओरेकल की चल रही है बायडांस से बातचीत
  • ट्रम्प प्रशासन के फैसले को बायडांस ने कोर्ट में चुनौती दी है

चीन की दिग्गज इंटरनेट कंपनी बायडांस अपने शॉर्ट वीडियो ऐप टिकटॉक के अमेरिकी कारोबार को बिक्री से बचाने के लिए ट्रम्प प्रशासन से बातचीत कर रही है। वॉल स्ट्रीट जनरल की बुधवार को प्रकाशित एक रिपोर्ट में यह बात कही गई है।

ट्रम्प ने दी है टिकटॉक का अमेरिकी कारोबार बेचने की सलाह

अमेरिका और चीन के संबंधों में लंबे समय से खटास बनी हुई है। इस खटास की वजह कारोबार, हॉन्ग-कॉन्ग की स्वायत्तता, साइबर सिक्युरिटी और कोरोनावायरस संक्रमण का फैलाव है। दोनों देशों की इस लड़ाई में टिकटॉक एक फ्लैशपॉइंट बनकर उभरा है। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने बायडांस को टिकटॉक का अमेरिकी कारोबार बेचने के लिए डेडलाइन तय कर दी है। साथ ही ट्रम्प चाहते हैं कि टिकटॉक के अमेरिकी कारोबार को कोई अमेरिकी कंपनी ही खरीदे।

माइक्रोसॉफ्ट और ओरेकल से चल रही बातचीत

टिकटॉक का अमेरिकी कारोबार खरीदने के लिए माइक्रोसॉफ्ट और ओरेकल की बायडांस के साथ बातचीत चल रही है। दोनों कंपनियों ने बायडांस को अपना ऑफर भेज दिया है। अमेरिका की दिग्गज रिटेल कंपनी वॉलमार्ट ने माइक्रोसॉफ्ट के साथ मिलकर बोली लगाई है। अमेरिका में टिकटॉक 175 मिलियन से ज्यादा बार डाउनलोड हो चुका है।

बायडांस ने बैन के फैसले को कोर्ट में चुनौती दी है

टिकटॉक की पैरेंट कंपनी बायडांस ने ट्रम्प प्रशासन के बैन के फैसले को कोर्ट में चुनौती दी है। बायडांस ने कोर्ट में कहा है कि ट्रम्प प्रशासन ने इंटरनेशनल इमर्जेंसी इकोनॉमिक पावर्स एक्ट का दुरुपयोग किया है। बायडांस का कहना है कि उसका शॉर्ट वीडियो प्लेटफॉर्म टिकटॉक असाधारण और असामान्य खतरा नहीं है।

ट्रम्प ने टिकटॉक को राष्ट्रीय सुरक्षा को खतरा बताया                      

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने टिकटॉक से राष्ट्रीय सुरक्षा को खतरा बताया है। ट्रम्प ने दावा किया कि चीन फेडरल कर्मचारियों की लोकेशन को ट्रैक करने के लिए टिकटॉक का इस्तेमाल कर सकता है। हालांकि, टिकटॉक ने चीन के साथ डाटा शेयर के आरोपों से इनकार किया है। हाल ही में ट्रम्प ने पत्रकारों से बात करते हुए कहा था कि टिकटॉक को लेकर 15 सितंबर तक कोई डील नहीं होती है तो हम इसको बंद कर देंगे।

15 सितंबर से प्रभावी होगा बैन

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने राष्ट्रीय सुरक्षा और यूजर्स के डाटा की गोपनीयता को लेकर टिकटॉक पर बैन लगाने के लिए एक्जीक्यूटिव ऑर्डर जारी कर दिया है। यह ऑर्डर 15 सितंबर से प्रभावी होगा। हालांकि, ट्रम्प ने टिकटॉक की पैरेंट कंपनी बायडांस को इसका अमेरिकी कारोबार बेचने के लिए 90 दिन की मोहलत दी है। रिपोर्ट के मुताबिक, हाल ही में टिकटॉक के प्रतिनिधिमंडल ने कंपनी के प्रमुख निवेशकों के सात डाटा के मुद्दे पर अमेरिका की केंद्रीय इंटेलीजेंस एजेंसी के अधिकारियों से भी मुलाकात की थी।

 

No comments:

Post a Comment

Popular Posts

CRPF PET 2020:CRPF ने जारी की फिजिकल एग्‍जाम की तारीख, 789 पदों पर भर्ती के लिए 14 दिसंबर को होगी परीक्षा

  सेंट्रल रिजर्व पुलिस फोर्स (CRPF) ने सब इंस्‍पेक्‍टर, इंस्‍पेक्‍टर, हेड कांस्‍टेबल समेत अन्‍य पदों पर भर्ती के लिए फिजिकल एग्‍जाम की डेट...