नीट परीक्षा:बॉयो, केमेस्ट्री और फिजिक्स के सवाल रहे आसान, कटऑफ 600 तक जाने की उम्मीद

 

                          तेज धूप में केंद्र के बाहर सोशल डिस्टेंसिंग की लगातार अनदेखी होती रही।

  • अजमेर में 14 सेंटराें पर 10 हजार विद्यार्थियाें ने दी परीक्षा

एनटीए (नेशनल टेस्टिंग एजेंसी) की ओर से रविवार काे आयाेजित नीट परीक्षा में शहर के 14 सेंटराें पर करीब दस हजार विद्यार्थी शामिल हुए। परीक्षा काे निरस्त करने की खबराें और काेराेना संक्रमण के साए में हुई नीट परीक्षा में विद्यार्थियाें ने जमकर उत्साह दिखाया।

तेज गर्मी में अभिभावक परेशान जरूर रहे लेकिन उनके चेहराें पर परीक्षा होने की खुशी नजर आई। परीक्षा सेंटराें पर विद्यार्थियाें के प्रवेश से लेकर पेपर खत्म हाेने तक व्यवस्थाएं चाक चाैबंद थी। दूसरी ओर, अभिभावकाें के लिए काेई इंतजाम नहीं हाेने से वे धूप में बेहाल रहे। इस दौरान साेशल डिस्टेंसिंग की अनदेखी होती रही।

नीट परीक्षा शुरू हाेने का समय दाेपहर 2 बजे से था, लेकिन दाे घंटे पहले ही 11 बजे से विद्यार्थियाें काे रिपाेर्टिंग करनी थी। ऐसे में शहर के सभी सेंटराें के सामने सुबह 11 बजे से ही भीड़ जमा हाेने लगी थी। रविवार काे सेंटरों के बाहर तेज धूप में लाइन लगाकर खड़े विद्यार्थी और बाहर उनके अभिभावक परेशान नजर अाए।
बायाे के 4 सवाल एनसीईआरटी से बाहर के
रविवार को आयोजित नीट परीक्षा का पेपर पिछले साल की तुलना में इस बार आसान रहा। एक्सपर्ट का कहना है कि पिछले साल की तुलना में केमेस्ट्री, जूलाॅजी, फिजिक्स और बाॅटनी के सवाल आसान थे। विशेषज्ञाें के अनुसार इस बार कटऑफ ज्यादा होना तय है।

पिछली बार कटऑफ 585 के आसपास रही थी, लेकिन इस बार 590 से 600 तक पहुंचने की उम्मीद है। फिजिक्स का पेपर फार्मूला बेस था, जबिक केमेस्ट्री और बायाेलाॅजी का पेपर एनसीईआरटी बेस रहा। हालांकि बायाे के चार सवाल एनसीईआरटी से बाहर के रहे।

दुकानदारों ने 15 का मास्क 30 रुपए में बेचा
काेविड-19 के गाइड लाइन के मुताबिक विद्यार्थियाें काे माॅस्क, सैनेटाइजर और हैंड ग्लब्ज साथ लेकर जाने थे। सैकड़ाें विद्यार्थियाें के पास इनमे से एक या दाे चीजें थी। ऐसे में तीसरी चीज लेने के लिए अभिभावकाें काे सेंटर के आसपास माैजूद दुकानाें से खरीदनी पड़ी। कई दुकानदाराें ने इसका जमकर फायदा उठाया और 15 रुपए के मास्क के 30 रुपए तक वसूले।

सेनेटाइजर की 30 रुपए की बाॅटल के 70 रुपए तक लिए गए। 25 रुपए में मिलने वाले हैंड ग्लब्ज के 40 रुपए तक वसूले गए।

No comments:

Post a Comment

Popular Posts

फीचर आर्टिकल:अब घर बैठे दवाई मंगवाना और डॉक्टर से परामर्श लेना हुआ बेहद आसन

  आज का दौर डिजिटाइजेशन का है, जिसमें अधिकतर काम ऑनलाइन, घर बैठे चंद मिनटों में आसानी से हो जाते हैं। चाहे भी फिर कपड़े खरीदना हो, किसी को...