कई भर्ती परीक्षाओं के इंटरव्यू अचानक रुके:आरएएस सहित 8,000 पदों पर नौकरी कांग्रेस शासन में नियुक्त होने वाले नए अध्यक्ष के टर्म में, श्रेय लेने की होड़ बड़ा कारण

 


  • आरपीएससी द्वारा इंटरव्यू स्थगित करने के पीछे कोरोना नहीं
  • आरबीएसई के 1 लाख से अधिक छात्रों की पूरक परीक्षा हो रही है

(आरिफ कुरैशी) हाल में आरएएस 2018 सहित कई परीक्षाओं के इंटरव्यू अचानक स्थगित होने से कई बड़े सवाल खड़े हुए हैं। जानकारों का मानना है कि अकेला कोरोना इसका कारण नहीं है, आयोग के वर्तमान अध्यक्ष दीपक उप्रेती के कार्यकाल की समाप्ति भी सरकार की नजर में है। कोरोना संकट में ही आरबीएसई के 1 लाख से अधिक छात्रों की पूरक परीक्षा हो रही है। आने वाले दिनों में नीट, नेट आदि परीक्षाओं के आयोजन होंगे।

ऐसे में सिर्फ आयोग के साक्षात्कार स्थगित करने पर सवाल उठ रहे हैं। यह भी कयास लगाया जा रहा है कि आरएएस 2018 के 1051 पदों सहित विभिन्न संवर्ग की करीब 8 हजार नौकरियां अब संभवतया कांग्रेस सरकार के कार्यकाल में लगने वाले नए अध्यक्ष के टर्म में ही मिल सकेंगी। मौजूदा अध्यक्ष की नियुक्ति भाजपा के शासन काल में हुई थी।

बता दें कि कोरोना संक्रमण के नाम पर राज्य सरकार के आग्रह पर आयोग द्वारा अचानक पीआरओ सहित 1297 पदों के लिए इंटरव्यू स्थगित किए गए हैं, जबकि प्राध्यापक भर्ती परीक्षा 2018 के 5 हजार पदों के लिए विचारित सूची में शामिल 10 हजार अभ्यर्थियों की काउंसलिंग आयोग करा रहा है।

कोरोना काल में प्रतिदिन करीब 500 अभ्यर्थियों की काउंसलिंग हो रही है। 20 में से 14 विषयों की काउंसलिंग 15 सितंबर तक चलेगी। आयोग सूत्रों का कहना है कि काउंसलिंग में तो करीब 500 अभ्यर्थी प्रतिदिन रहे हैं, जबकि यदि इंटरव्यू आयोजित किए जाते तो मात्र 30 अभ्यर्थी ही प्रतिदिन आते। फिर भी इंटरव्यू स्थगित कर दिए गए।

ढाई साल में कांग्रेस सरकार ने नहीं की एक भी सदस्य की नियुक्ति
आयोग में अध्यक्ष दीपक उप्रेती के साथ ही सदस्य शिव सिंह राठौड़, रामू राम रायका और राजकुमारी गुर्जर तत्कालीन भाजपा सरकार के कार्यकाल में आयोग में आए थे। कांग्रेस सरकार के गठन को भी करीब ढाई साल हो चुके हैं, लेकिन अब तक किसी नए सदस्य की नियुक्ति नहीं हुई। आयोग के अध्यक्ष का कार्यकाल 14 अक्टूबर को समाप्त हो रहा है। ऐसे में कांग्रेस अपने कार्यकाल में आयोग में अपने अध्यक्ष 4 नए सदस्यों को ला सकती है।

ये परीक्षाएं हो गईं, अभी परिणाम आना बाकी

  • वेटरिनरी ऑफिसर स्क्रीनिंग टेस्ट 2019 -900 पद
  • लाइब्रेरियन ग्रेड सेकंड स्क्रीनिंग टेस्ट 2019 -12 पद
  • लेक्चरर-स्कूल एग्जाम 2018, संस्कृत शिक्षा विभाग -264 पद
  • असिस्टेंट प्रोफेसर(ब्रॉड स्पेशियलिटी),चिकित्सा शिक्षा विभाग-141 पद
  • असिस्टेंट प्रोफेसर(सुपर स्पेशियलिटी),चिकित्सा शिक्षा विभाग-35 पद
  • इवोल्यूशन ऑॅफिसर स्क्रीनिंग टेस्ट 2020 -प्लानिंग डिपार्टमेंट, 6 पद
  • डिप्टी कमांडेंट स्क्रीनिंग टेस्ट 2020-होम सिक्योरिटी डिपार्टमेंट- 13 पद

इन एग्जाम्स के परिणामाें में हो सकती है देरी
आयोग सूत्रों के मुताबिक इन सभी पदों के परिणाम भी अब संभवतया देर से ही आने के आसार हैं। यदि परिणाम भी गए तो इंटरव्यू की प्रक्रिया संभवतया नए अध्यक्ष के कार्यकाल में ही शुुरू होगी।

इस महीने, दो बड़ी परीक्षाएं
सीनियर डेमोंस्ट्रेटर स्क्रीनिंग टेस्ट, चिकित्सा शिक्षा विभाग-93 पद (13 से 17 सितंबर तक) {एसीएफ एंड फॉरेस्ट रेंज ऑफिसर ग्रेड फर्स्ट-2018 के 204 पद (20 से 27 सितंबर तक) इनकी तैयारियां जारी हैं।

इनके होने हैं साक्षात्कार

  • आरएएस परीक्षा 2018
  • पीआरओ-
  • समूहअनुदेशक/सर्वेयर/सहायक शिक्षुता सलाहकार
  • उपाचार्य/अधीक्षक आईटीआई खाद्य सुरक्षा अधिकारी

No comments:

Post a Comment

Popular Posts

MP NHM CHO 2020:कम्युनिटी हेल्थ ऑफिसर के पदों पर भर्ती के लिए होने वाली परीक्षा का एडमिट कार्ड जारी, 6 दिसंबर को 3800 पदों के लिए होगा एग्जाम

  मध्य प्रदेश नेशनल हेल्थ मिशन में कम्युनिटी हेल्थ ऑफिसर के पदों पर भर्ती के लिए होने वाली परीक्षा के एडमिट कार्ड जारी कर दिए गए हैं। मध्य...