जयपुर में डबल मर्डर:पति ने ससुराल में पत्नी और सास की गला काटकर हत्या की, तीन बच्चों के साथ खुद थाने पहुंचकर जुर्म कबूला

 

शिवदासपुरा इलाके में शिवम नगर में कमरे में पड़ा मंजू देवी का शव। उसके पति रामकिशन ने देर रात 1 बजे मंजू और उसकी मां गौरा देवी की गला काटकर हत्या कर दी थी। फोटो डरा देने वाली थी, इसलिए इसे ब्लर कर दिया।

  • जयपुर के शिवदासपुरा थाना इलाके में देर रात 1 बजे की घटना
  • ससुराल में पिछले कई वर्षों से घर जमाई बनकर रह रहा था आरोपी
  • हत्या के बाद तीनों बच्चों को बाइक पर बैठाकर चाकसू थाने पहुंच गया

शहर पुलिस कमिश्नरेट के शिवदासपुरा थाना इलाके में एक व्यक्ति ने रविवार रात 1 बजे अपनी ससुराल में धारदार चाकू से पत्नी और सास की गला काटकर हत्या कर दी। इसके बाद आधी रात को 3:30 बजे तीन बच्चों के साथ बाइक पर बैठकर चाकसू पुलिस थाने पहुंच गया। वहां खून से सने कपड़े पहने हुए आरोपी पति रामकिशन सैनी (39) ने पुलिस को बताया कि उसने गला काटकर पत्नी और सास की हत्या कर दी। आप लोग मेरे साथ घटनास्थल पर चलकर देख सकते हैं।

आरोपी की बात की सत्यता जानने के लिए चाकसू पुलिस उसे लेकर शिवदासपुरा में घटनास्थल पर पहुंची। वहां एक कमरे में दोनों महिलाओं की लाशें देखकर पुलिसकर्मी भी सन्न रह गए। वहां काफी खून बिखरा पड़ा था। चाकसू थाने के उपनिरीक्षक शंभू सिंह ने वारदात की जानकारी शिवदासपुरा थाना पुलिस को दी। तब थाना प्रभारी इंद्राज मरोडिया मौके पर पहुंचे। आरोपी को हिरासत में लेकर केस दर्ज किया। सोमवार सुबह सूचना पर डीसीपी मनोज कुमार चौधरी, एडिशनल डीसीपी अवनीश कुमार शर्मा भी मौके पर पहुंचे। एफएसएल टीम को मौके पर बुलाकर साक्ष्य लिए गए।


शिवदासपुरा इलाके में शिवम नगर कॉलोनी के मकान में पड़ा गौरा देवी का शव। जिनके दामाद रामकिशन ने उनकी हत्या कर दी

पत्नी के चरित्र पर संदेह के चलते आपसी विवाद होता रहता था

शिवदासपुरा पुलिस ने बताया कि वारदात चाकसू के चंदलाई पुलिया के नजदीक स्थित शिवम नगर की है। आरोपी रामकिशन यहां अपनी ससुराल में घर जमाई बनकर रहता था। यहीं रामकिशन की पत्नी मंजू (35), सास गौरा देवी (60) और तीन बच्चे साथ रहते हैं। रामकिशन को पत्नी के चरित्र पर संदेह रहता था। इससे उनके बीच अक्सर झगड़ा चल रहा था। लॉकडाउन की वजह से रामकिशन का रोजगार भी चला गया था। इससे वह ज्यादातर घर ही रहने लगा था। इस दौरान पत्नी के चरित्र पर संदेह को लेकर पिछले कुछ दिनों से यह विवाद और ज्यादा बढ़ गया था।

रात 1 बजे हत्या कर साढ़े 3 बजे चाकसू थाने पहुंच गया आरोपी

प्रारंभिक पूछताछ में सामने आया कि रामकिशन को लगता था कि उसकी सास भी पत्नी का पक्ष लेती है। ऐसे में उसने दोनों की हत्या करने की ठान ली। रविवार देर रात 1 बजे रामकिशन ने पत्नी और सास गहरी नींद में सो गए। तब धारदार चाकू से उनका गला रेतकर हत्या कर दी। इसके बाद तीनों बच्चों को जगाकर बाइक पर बैठाया और चाकसू थाने पहुंच गया। पुलिस के मुताबिक रामकिशन के दो बेटे जिनकी उम्र करीब 15 साल और 13 साल है। इसके अलावा 11 वर्षीया एक बेटी है। उन्हें परिजनों के साथ वापस घर भेज दिया।

हत्या के बाद रामकिशन के चेहरे पर कोई शिकन नहीं थी

हत्या के बाद भी रामकिशन के चेहरे पर किसी तरह की शिकन नहीं थी। उसने चाकसू थाने पहुंचकर बताया कि उसे ससुराल का मकान नंबर याद नहीं है। वह खुद पुलिस को घटनास्थल पर लेकर चल सकता है। तब पुलिस मौके पर पहुंची। शवों को मौका मुआयना करने के बाद महात्मा गांधी अस्पताल की मोर्चरी में रखवाया गया है। जहां आज पोस्टमार्टम करवाया जाएगा। दोहरे हत्याकांड की इस घटना का पता चलने पर कॉलोनीवासियों में सनसनी मच गई। शिवदासपुरा थाना पुलिस ने रामकिशन के खिलाफ 302 आईपीसी के तहत केस दर्ज कर लिया है।

No comments:

Post a Comment

Popular Posts

फीचर आर्टिकल:अब घर बैठे दवाई मंगवाना और डॉक्टर से परामर्श लेना हुआ बेहद आसन

  आज का दौर डिजिटाइजेशन का है, जिसमें अधिकतर काम ऑनलाइन, घर बैठे चंद मिनटों में आसानी से हो जाते हैं। चाहे भी फिर कपड़े खरीदना हो, किसी को...