शानदार बढ़त का असर:10 लाख करोड़ रु. का एम कैप हासिल करने वाली टीसीएस बनी दूसरी कंपनी, सोमवार को शेयर 5.65% बढ़कर एक साल के उच्च स्तर पर पहुंचा

 

24 सितंबर को बीएसई में लिस्टेड कुल कंपनियों का मार्केट कैप बीएसई 148 लाख करोड़ रुपए था, जो सोमवार तक 10 लाख करोड़ रुपए बढ़कर 158 लाख करोड़ रुपए हो गया है। 

  • सोमवार को टीसीएस का शेयर 52 हफ्ते के उच्चतम स्तर पर पहुंचा
  • कुल एम कैप के लिहाज से टीसीएस और आरआईएल के बीच 5 लाख करोड़ रुपए का अंतर रह गया है

सोमवार को घरेलू शेयर बाजार में शानदार बढ़त के कारण टीसीएस का मार्केट कैप 10 लाख करोड़ रुपए के स्तर पर पहुंच गया है। आज कंपनी शेयर कारोबारी सत्र के दौरान 2,666.30 के स्तर पर भी पहुंचा, जो शेयर का 52 हफ्ते का उच्चतम स्तर है। मार्केट कैप के लिहाज से टीसीएस और आरआईएल के बीच 5 लाख करोड़ रुपए का अंतर रह गया है।

शानदार बढ़त का असर

टीसीएस का शेयर 11.46 बजे तक बीएसई में 5.22% की बढ़त के साथ 2,654 के स्तर पर कारोबार कर रहा है। एनएसई में कंपनी का कुल मार्केट कैप 10,00,38,5.26 रुपए हो गया है। मार्केट कैप के लिहाज से टॉप-10 की लिस्ट में सबसे ऊपर रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड (RIL) है। बीएसई में आरआईएल का कुल मार्केट कैप 15 लाख करोड़ रुपए है। लिस्ट में दूसरी स्थान पर काबिज टीसीएस और आरआईएल के बीच मार्केट कैप का अंतर 5 लाख करोड़ रुपए का रह गया है, जो पहले 8 लाख करोड़ रुपए का था।


                        11.46 बजे तक बीएसई में टीसीएस का शेयर 5.22% ऊपर कारोबार कर रहा है।

बीते हफ्ते घरेलू शेयर बाजार में तेजी देखने को मिली थी। इस दौरान बीएसई की टॉप-10 मोस्ट वैल्यूएबल कंपनियों में से 8 कंपनियों के मार्केट कैप में 1.45 लाख करोड़ रुपए का इजाफा हुआ था। इसमें टाटा कंसलटेंसी सर्विसेज (टीसीएस) सबसे ऊपर रहा यानी कंपनी के मार्केट कैप में सबसे ज्यादा 37.69 हजार करोड़ रुपए की बढ़त देखने को मिली थी।

बीएसई में लिस्टेड कुल कंपनियों का मार्केट कैप

पिछले हफ्ते टीसीएस के अलावा एचडीएफसी बैंक का मार्केट कैप भी 34.42 हजार करोड़ रुपए बढा था। सोमवार को बीएसई में एचडीएफसी बैंक का कुल एम कैप 6.20 लाख करोड़ रुपए हो गया है। 24 सितंबर को बीएसई में लिस्टेड कुल कंपनियों का मार्केट कैप बीएसई 148 लाख करोड़ रुपए था, जो सोमवार तक 10 लाख करोड़ रुपए बढ़कर 158 लाख करोड़ रुपए हो गया है। बीते सप्ताह बीएसई में 1308.39 अंक या 3.49% की तेजी दर्ज की गई थी।

बायबैक की खबर

टीसीएस के बोर्ड ऑफ डायरेक्टर्स की बैठक 7 अक्टूबर को होगी। इसमें शेयर बायबैक पर फैसला हो सकता है। कंपनी ने अपनी रेगुलेटरी फाइलिंग में यह जानकारी दी है। हालांकि, कंपनी ने शेयर बायबैक के बारे में ज्यादा जानकारी नहीं दी है। बोर्ड बैठक में सितंबर तिमाही के वित्तीय नतीजे भी जारी किए जा सकते हैं। इससे पहले टीसीएस 2018 में 16 हजार करोड़ रुपए का बायबैक लेकर आई थी। इसमें 2100 रुपए प्रति शेयर की दर से शेयर बायबैक किए गए थे। इस बायबैक में 7.61 करोड़ शेयर शामिल थे।

सोमवार को बीएसई 11.38 बजे तक 1.18% की बढ़त के साथ 39,154.81 अंकों पर और निफ्टी-50 इंडेक्स भी 1.15% की बढ़त के साथ 11,548.25 के स्तर पर कारोबार कर रहा है। आज निफ्टी आईटी इंडेक्स में 560 अंकों की शानदार बढ़त है।

No comments:

Post a Comment

Popular Posts

किसान आंदोलन की 10 फोटो:कृषि कानूनों के खिलाफ पंजाब-हरियाणा में तनाव, पुलिस ने दिल्ली जाने से रोका तो किसान सड़कों पर ही बैठ गए

  केंद्र के कृषि कानूनों के खिलाफ पंजाब और हरियाणा के हजारों किसान दिल्ली के लिए रवाना हुए हैं। फोटो करनाल के समाना बाहू इलाके की है। केंद...