सुशांत मौत मामला:मीडिया रिपोर्ट्स में दावा- सीबीआई ने भी अपनी फाइनल रिपोर्ट में एम्स की रिपोर्ट पर मुहर लगाई, एक्टर की मौत को सुसाइड माना

 

सुशांत सिंह राजपूत मौत मामले की जांच कर रही सीबीआई की टीम ने भी इस बात को मान लिया है कि अभिनेता ने आत्महत्या ही की थी और उनकी हत्या नहीं हुई थी। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक एजेंसी अपनी फाइनल रिपोर्ट में यही बात लिखकर देने वाली है। इससे पहले एम्स की फॉरेसिंक टीम ने भी इसे आत्महत्या ही बताया था।

सीबीआई सूत्रों से मिली जानकारी के आधार पर इंडियन एक्सप्रेस की खबर में बताया गया है कि इस केस में सीबीआई को हत्या से जुड़ा कोई सबूत नहीं मिला है। ना तो घर में किसी के जबरन घुसने का कोई सबूत मिला और ना ही हत्या से जुड़ा कोई अन्य सुराग मिला। जिसके बाद मर्डर थ्योरी पूरी तरह फेल हो गई और अब एजेंसी उन कारणों की जांच कर रही है, जिनके आधार पर सुशांत अपनी जान लेने पर मजबूर हो गए।

दो बार सीन रीक्रिएट करके देखा गया

इस केस की जांच के दौरान सीबीआई ने दो बार सुशांत की कद काठी और वजन वाले डमी के साथ उनके घर पर सीन रीक्रिएट करके देखा। इस दौरान पहली बार 22 अगस्त को सीन रीक्रिएट किया गया, इसके बाद कुछ अन्य सवालों का जवाब जानने के लिए दूसरी बार 5 सितंबर को सीन रीक्रिएट किया गया था। दोनों बार एम्स की फॉरेंसिक टीम सीबीआई के साथ थी। दोनों बार यही सामने आया कि फांसी लगाना संभव है।

नहीं मिला चोट या हाथापाई का कोई निशान

जांच के दौरान सीबीआई को कोई ऐसा सबूत नहीं मिला कि इसे मर्डर माना जा सके। एजेंसी इसी निष्कर्ष पर पहुंची है कि ये क्लियर कट सुसाइड का मामला है। जांच में पता चला कि सुशांत के शरीर पर गले में फंदे के निशान के अलावा किसी भी तरह की चोट का या अन्य कोई निशान नहीं था और ना ही हाथापाई से जुड़ा कोई निशान मिला। जांच में उन्हें जहर देने या बेहोशी की दवा देने का कोई सबूत भी नहीं मिला।

अब इन एंगल्स से मामले की जांच करेगी सीबीआई

आत्महत्या का मामला स्पष्ट होने के बाद सीबीआई अब इसके कारणों की पड़ताल करेगी। इसमें रिया चक्रवर्ती और उनके भाई की भूमिका, बॉलीवुड में प्रोफेशनल राइवलरी और भाई-भतीजावाद, नशीली दवाओं के दुरुपयोग और राजपूत के मानसिक स्वास्थ्य का एंगल शामिल है।

फोरेंसिक ऑडिट में भी कुछ संदिग्ध नहीं निकला

दूसरी ओर सुशांत के बैंक खाते की फोरेंसिक ऑडिट रिपोर्ट में भी कुछ संदिग्ध ट्रांजेक्शन होना नहीं पाया गया। इंडियन एक्सप्रेस की खबर के मुताबिक, सुशांत के सभी बैंक खातों में पिछले 5 साल के दौरान 70 करोड़ का लेन-देन हुआ, जिसमें से सिर्फ 55 लाख रुपए ही रिया चक्रवर्ती से जुड़े पाए गए हैं। ज्यादातर पैसा यात्रा, स्पा और गिफ्ट खरीदने पर खर्च किया गया था।

सुशांत के पिता ने दर्ज कराया है धोखाधड़ी का केस

सुशांत के पिता केके सिंह ने रिया चक्रवर्ती के खिलाफ 15 करोड़ रुपए की धोखाधड़ी का केस पटना के राजीव नगर थाने में दर्ज करवाया था। इसे आधार मानते हुए प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने मनी लॉन्ड्रिंग का केस दर्ज किया था। इस मामले में एक्ट्रेस से तीन बार पूछताछ की जा चुकी है। हालांकि, ईडी ने अपनी फाइनल रिपोर्ट अभी तक सार्वजनिक नहीं की है। इसी केस की जांच के दौरान सुशांत के बैंक खाते का फॉरेंसिक ऑडिट भी किया गया।

रिया को मिल गई जमानत

ड्रग्स मामले में एक महीने से जेल में बंद रिया चक्रवर्ती को बुधवार को बॉम्बे हाईकोर्ट ने जमानत दे दी। हाईकोर्ट ने कहा कि रिया ड्रग डीलर्स का हिस्सा नहीं हैं। उन्होंने अपने या किसी और के फायदे के लिए किसी भी तरह से ड्रग्स को आगे नहीं बढ़ाया है। फिलहाल ऐसा कोई प्रमाण नहीं है, जिसके आधार पर यह माना जाए कि जमानत मिलने के बाद वह कोई अपराध कर सकती हैं। इससे पहले, सेशन कोर्ट ने मंगलवार को रिया की ज्यूडिशियल कस्टडी 14 दिन और यानी 20 अक्टूबर तक बढ़ा दी थी।

No comments:

Post a Comment

Popular Posts

फीचर आर्टिकल:अब घर बैठे दवाई मंगवाना और डॉक्टर से परामर्श लेना हुआ बेहद आसन

  आज का दौर डिजिटाइजेशन का है, जिसमें अधिकतर काम ऑनलाइन, घर बैठे चंद मिनटों में आसानी से हो जाते हैं। चाहे भी फिर कपड़े खरीदना हो, किसी को...