या तो टिकट कटा या पार्टी बदल ली:सुल्तानगंज से किसी की नहीं लगी हैट्रिक, अबतक चार चेहरे दाे बार विधायक बने

 

                      सुबोध राय तीसरी बार भी टिकट लेने के प्रयास में हैं।

(संजय कुमार) भागलपुर जिले के सुल्तानगंज विधानसभा क्षेत्र में अबतक जीत की हैट्रिक किसी नेता की नहीं लगी है। यहां 1951 से ही चुनाव होता आया है। अब तक हुए तमाम विधानसभा चुनावों में चार ऐसे उम्मीदवार रहे, जिन्होंने लगातार दो बार जीत दर्ज की। कांग्रेस के रामरक्षा प्रसाद यादव, जनता दल के फणीन्द्र चौधरी, जदयू के सुधांशु शेखर भास्कर और वर्तमान विधायक सुबोध राय दोबारा जीतकर पटना जाने में सफल रहे।

सुबोध राय तीसरी बार भी टिकट लेने के प्रयास में हैं। यह भी संयोग रहा कि हैट्रिक लगाने की चाहत रखे नेताओं की या तो टिकट कट गई या उस दरम्यान उन्होंने पार्टी बदल ली। कांग्रेस के रामरक्षा प्रसाद यादव 1969 और 1972 में लगातार जीते। 1969 में उन्हें 21262 वोट मिले और उन्होंने सीपीआई के वैजनाथ मंडल को 707 वोट से हराया था।

1972 में वे दोबारा जीते। इस बार 24170 वोट लाकर एनसीओ के जागेश्वर मंडल को 4162 वोटों के अंतर से शिकस्त दी थी। जदयू के फणीन्द्र चौधरी 1990 और 1995 में लगातार दो बार विजयी हुए। 1990 में आईएनसी के अंबिका प्रसाद को 9246 वोटों के अंतर से हराया।

जदयू के सुबाेध राय लगातार दाे बार से कर रहे इलाके का प्रतिनिधित्व
लगातार दो बार विधानसभा जाने वालों में सुधांशु शेखर भास्कर भी रहे। फरवरी 2005 में जदयू के टिकट से राजद के गणेश पासवान को हराया। उन्हें 50827 वोट मिले। इसी साल मध्यावधि चुनाव हुए और अक्टूबर में फिर राजद के गणेश पासवान को हराया। इस बार उन्हें 48063 वोट मिले।

वामपंथी चेहरा माने जाने वाले सुबोध राय ने 2010 और 2015 में लगातार जीत दर्ज की। जदयू के टिकट पर 2010 में राजद के रामावतार मंडल को 4845 मतों के अंतर से हराया। 2015 में रालोसपा के हिमांशु प्रसाद को 14033 वोटों के अंतर से हराया।

 

No comments:

Post a Comment

Popular Posts

CRPF PET 2020:CRPF ने जारी की फिजिकल एग्‍जाम की तारीख, 789 पदों पर भर्ती के लिए 14 दिसंबर को होगी परीक्षा

  सेंट्रल रिजर्व पुलिस फोर्स (CRPF) ने सब इंस्‍पेक्‍टर, इंस्‍पेक्‍टर, हेड कांस्‍टेबल समेत अन्‍य पदों पर भर्ती के लिए फिजिकल एग्‍जाम की डेट...