पाकिस्तान में विपक्ष और सरकार आमने-सामने:पूर्व प्रधानमंत्री नवाज की पार्टी ने कहा- इमरान की भ्रष्ट सरकार के खिलाफ बोलने वाले नेताओं को चुप कराया जा रहा

 

पाकिस्तान के पूर्व पीएम नवाज की पार्टी ने कहा है कि इमरान सरकार भ्रष्ट है। यह जरूरी सामान की कालाबाजारी करने वाले माफिया से मिली हुई है।- फाइल फोटो

  • नवाज की पार्टी पीएमएल-एन की प्रवक्ता मरियम औरंगजेब ने कहा हमारी पार्टी के अध्यक्ष को साजिश के तहत फंसाकर जेल भेजा गया है
  • सरकार के खिलाफ मुहिम शुरू करने के लिए बनाए गए विपक्षी पार्टियों के गठबंधन की ओर से 11 अक्टूबर को क्वेटा में पहली रैली निकाली जाएगी

पाकिस्तान में विपक्षी पार्टियों और सरकार के बीच विवाद थम नहीं रहा है। पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ की पार्टी पाकिस्तान मुस्लिम लीग- नवाज (पीएमएलएन) ने रविवार को कहा कि इमरान सरकार विपक्ष को दबाने की कोशिश कर रही है। पार्टी की प्रवक्ता मरियम औरंगजेब ने कहा- इमरान की भ्रष्ट सरकार के खिलाफ बोलने वाले विपक्षी नेताओं को चुप कराया जा रहा है। साजिश के तहत उन्हें झूठे मुकदमों में फंसाया जा रहा है।

पाकिस्तान के विपक्षी पार्टियों ने सरकार के खिलाफ आवाज उठाने के लिए पाकिस्तान डेमोक्रेटिक मूवमेंट (पीडीएम) गठबंधन बनाया है। इसकी अगुआई की जिम्मेदारी मौलाना फजलू रहमान को दी गई है। फजलू पहले भी इमरान सरकार के खिलाफ देश भर में प्रदर्शन कर चुके हैं। हाल के दिनों में इस गठबंधन में शामिल फजलू समेत दो अहम नेताओं पर इमरान सरकार ने कार्रवाई की है।

विपक्ष के आंदोलन को कमजोर करने की कोशिश हो रही

मरियम ने कहा कि सरकार जरूरी सामान जैसे कि चीनी और गेंहूं की कालाबाजारी करने वाले माफिया के आगे झुक गई है। देश में मंहगाई बढ़ गई है, लेकिन इस पर बोलने से रोका जा रहा है। हमारी पार्टी के अध्यक्ष शाहबाज शरीफ को एक साजिश के तहत फंसाकर जेल भेजा गया है। वहीं, सरकार के खिलाफ मुहीम चलाने वाले जमियत उलेमा - इस्लाम के नेता फजलू रहमान को भी नोटिस जारी किया गया है। यह सभी सरकार के खिलाफ शुरू किए गए आंदोलन को कमजोर करने की कोशिश की है।

11 अक्टूबर को होगी पीडीएम की पहली रैली

इस बीच पीडीएम ने कहा है कि सरकार के खिलाफ इसकी पहली रैली 11 अक्टूबर को क्वेटा में होगी। पीडीएम विपक्षी पार्टियों को सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाने के लिए भी मनाने में जुटा है। इसके साथ ही सरकार पर दबाव बनाने के लिए विपक्षी सांसद एक साथ इस्तीफा भी दे सकते हैं। देश की राजनीति में सेना के दखल को लेकर विपक्षी पार्टियां नाराज हैं। फिलहाल लंदन में इलाज करवा रहे नवाज ने कुछ दिनों पहले वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए सरकार की आलोचना की थी। उन्होंने कहा था कि देश में दो पावर सेंटर हैं, एक सरकार और दूसरी सेना।

No comments:

Post a Comment

Popular Posts

किसान आंदोलन की 10 फोटो:कृषि कानूनों के खिलाफ पंजाब-हरियाणा में तनाव, पुलिस ने दिल्ली जाने से रोका तो किसान सड़कों पर ही बैठ गए

  केंद्र के कृषि कानूनों के खिलाफ पंजाब और हरियाणा के हजारों किसान दिल्ली के लिए रवाना हुए हैं। फोटो करनाल के समाना बाहू इलाके की है। केंद...