पर्सनल फाइनेंस:म्यूचुअल फंड ने अक्टूबर में जोड़े 4 लाख से ज्यादा फोलियो, सितंबर के मुकाबले 79% की आई कमी

 

                               म्यूचुअल फंड कंपनियों ने सितंबर महीने में 7.37 लाख फोलियो जोड़े थे

  • म्यूचुअल फंड इंडस्ट्री में कुल फोलियो की संख्या 9.37 करोड़ के पार पहुंच गई है
  • सितंबर के आखिर तक यह संख्या 9.33 करोड़ थी

म्यूचुअल फंड इंडस्ट्री ने अक्टूबर महीने में 4.11 लाख से ज्यादा फोलियो जोड़े हैं। इसके साथ ही म्यूचुअल फंड इंडस्ट्री में कुल फोलियो की संख्या 9.37 करोड़ के पार पहुंच गई है। फोलियो के आंकड़े में यह बढ़ोतरी मुख्य रूप से ऋण या बॉन्ड योजनाओं से योगदान बढ़ने के चलते हुई है। सितंबर महीने में 7.37 लाख फोलियो जुड़े थे। इस तरह सितंबर के मुकाबले अक्टूबर महीने में नए फोलियो में करीब 79% की कमी आई है।

9,37,18,991 पर पहुंची संख्या
म्यूचुअल फंड्स के लिए संगठन एसोसिएशन ऑफ म्युचुअल फंड्स इन इंडिया (AMFI) के आंकड़ों के अनुसार, अक्टूबर महीने के आखिर तक 45 म्युचुअल फंड कंपनियों के फोलियो की संख्या बढ़कर 9,37,18,991 पर पहुंच गई। सितंबर के आखिर तक यह संख्या 9,33,07,480 थी।

इक्विटी और इक्विटी-लिंक्ड सेविंग स्कीमों में बढ़ा निवेश

इक्विटी और इक्विटी-लिंक्ड सेविंग स्कीमों के तहत फोलियो की संख्या अक्टूबर में 30,000 से बढ़कर 6.39 करोड़ हो गई। डेट स्कीम फोलियो की संख्या 2.23 लाख से 75.25 लाख हो गई। लंबी अवधि, क्रेडिट रिस्क, डेट फंड्स में सभी श्रेणियों में फोलियो में वृद्धि हुई है। अक्टूबर में लघु अवधि के फंडों में 41,690 फोलियो शामिल हैं। इसके बाद कॉरपोरेट बॉन्ड फंड्स 33,935 रुपए, लिक्विड फंड्स 28,839 रुपए और बैंकिंग और सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रम फंड्स (पीएसयू) 17,075 रुपए शामिल हैं। कुल मिलाकर, निवेशकों ने पिछले महीने विभिन्न म्यूचुअल फंड योजनाओं में 98,576 करोड़ रुपए का निवेश किया।

सितंबर महीने में 7.37 लाख फोलियो जोड़े
म्यूचुअल फंड कंपनियों ने सितंबर महीने में 7.37 लाख फोलियो जुड़े थे। इससे पहले म्यूचुअल फंड कंपनियों के निवेशक खातों में अगस्त महीन में 4.25 लाख, जुलाई महीने में 5.6 लाख, मई महीने में 6.13 लाख व अप्रैल महीने में 6.82 लाख फोलियो की बढ़ोत्तरी हुई थी।

क्या है फोलियो?
एक निवेशक के एक से ज्यादा फोलियो हो सकते हैं और फोलियो में 18 लाख निवेशकों की बढ़ोतरी का मतलब ये नहीं है कि 18 लाख नए निवेशक बढ़े हैं। जिस तरह किसी व्यक्ति के एक से ज्यादा बैंक अकाउंट हो सकते हैं वैसे ही एक निवेशक के एक से ज्यादा फाेलियो हो सकते हैं। ये एक यूनिक नंबर होता है जो निवेशक की पहचान होती है।

No comments:

Post a Comment

Popular Posts

साइक्लोन निवार की आंखों देखी:तूफान से भी अधिक डरावना था, तूफान का वो खौफ!

  चेन्नई में पिछले 24 घंटे से बारिश हो रही है। कई इलाकों में पानी भर गया है। ज्यादातर इलाके खाली करा लिए गए हैं। चेन्नई एयरपोर्ट से बाहर नि...